25.1 C
Ranchi
Thursday, July 7, 2022

सिलेबस कटौती के बाद मैट्रिक व इंटर की परीक्षा में प्रश्न पत्र पैटर्न में बदलाव की तैयारी

राज्य के सरकारी स्कूलों के पाठ्यक्रम में कटौती के बाद अब शिक्षा विभाग, मैट्रिक व इंटरमीडिएट परीक्षा-2021 के लिए प्रश्न पत्र के पैटर्न में बदलाव की तैयारी कर रहा है. इसके लिए सीबीएसइ समेत देश के अन्य राज्यों के परीक्षा बोर्ड के प्रश्न पत्र का अध्ययन किया गया है.

इस संबंध में विभाग ने झारखंड एकेडमिक काउंसिल (जैक) को सीबीएसइ, राजस्थान व अोड़िशा बोर्ड की 10वीं व 12वीं कक्षा का प्रश्न भेजा है. इसी आधार पर पैटर्न में बदलाव करने को कहा गया है. दूसरे राज्यों की परीक्षा में जैक की तुलना में बहुविकल्पीय प्रश्न अधिक पूछे जाते हैं. ऐसे में झारखंड में भी मैट्रिक व इंटर की परीक्षा में इन प्रश्नों की संख्या बढ़ायी जा सकती है.

झारखंड एकेडमिक काउंसिल द्वारा इस संबंध में प्रस्ताव तैयार कर देने को कहा गया है. इसके बाद इस पर निर्णय लिया जायेगा. राज्य में वर्ष 2021 की मैट्रिक व इंटर की परीक्षा मार्च में प्रस्तावित है. ऐसे में प्रश्न पत्र पैटर्न में जल्द बदलाव न होने पर विद्यार्थियों की तैयारी प्रभावित हो सकती है.

तीन माह बाद मैट्रिक व इंटर की परीक्षा प्रस्तावित है. पर अब तक झारखंड एकेडमिक काउंसिल द्वारा एक भी मॉडल सेट प्रश्न पत्र जारी नहीं किया जा सका है. सिलेबस कटौती के बाद जैक ने मॉडल सेट प्रश्न पत्र तैयार करने की प्रक्रिया शुरू की थी. अधिकतर विषयों के प्रश्न पत्र तैयार कर लिये गये थे.

दिसंबर में इसे जारी करने की तैयारी थी, पर अब प्रश्न पत्र पैटर्न में बदलाव की तैयारी के बाद फिलहाल मॉडल प्रश्न पत्र भी जारी होने की संभावना कम है. सिलेबस कटौती की प्रक्रिया पूरी करने में शिक्षा विभाग को लगभग चार माह लग गये थे. सिलेबस में कटौती के लिए कमेटी जुलाई में गठित की गयी थी. संशोधित सिलेबस नवंबर में जाकर जारी किया जा सका है.

दिसंबर में जमा लिया जायेगा परीक्षा फाॅर्म

मैट्रिक व इंटर परीक्षा 2021 के लिए परीक्षा फॉर्म जमा लेने की प्रक्रिया दिसंबर में शुरू होगी. इस संबंध में झारखंड एकेडमिक काउंसिल द्वारा दिसंबर के प्रथम सप्ताह में दिशा-निर्देश जारी किया जा सकता है.

Related Articles

ऑल्ट न्यूज़ के को-फाउंडर मोहम्मद जुबैर को दिल्ली पुलिस ने धार्मिक भावनाओं को भड़काने के मामले में गिरफ्तार किया

ऑल्ट न्यूज़ के को-फाउंडर प्रतीक सिन्हा ने ट्वीट कर बताया कि दिल्ली स्पेशल पुलिस ने 2020 के एक केस में जुबैर को पूछताछ के...

किसान आंदोलन का 5वां दिन

केंद्र के कृषि बिलों के खिलाफ किसानों के आंदोलन का आज 5वां दिन है। दिल्ली की सीमाओं पर किसानों का प्रदर्शन जारी है। वे...

बंगाल में चुनाव करीब आते हि मुस्लिमो पर अत्यचार शुरु

नई दिल्ली | क्या क़ुरआन और उर्दू अरबी की किताबें जिहादी लिट्रेचर हैं? क्या इन्हें घर में रखना अपराध है? क्या देश में किसी मुसलमान...

Stay Connected

22,015FansLike
2,507FollowersFollow
19,800SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles

ऑल्ट न्यूज़ के को-फाउंडर मोहम्मद जुबैर को दिल्ली पुलिस ने धार्मिक भावनाओं को भड़काने के मामले में गिरफ्तार किया

ऑल्ट न्यूज़ के को-फाउंडर प्रतीक सिन्हा ने ट्वीट कर बताया कि दिल्ली स्पेशल पुलिस ने 2020 के एक केस में जुबैर को पूछताछ के...

किसान आंदोलन का 5वां दिन

केंद्र के कृषि बिलों के खिलाफ किसानों के आंदोलन का आज 5वां दिन है। दिल्ली की सीमाओं पर किसानों का प्रदर्शन जारी है। वे...

बंगाल में चुनाव करीब आते हि मुस्लिमो पर अत्यचार शुरु

नई दिल्ली | क्या क़ुरआन और उर्दू अरबी की किताबें जिहादी लिट्रेचर हैं? क्या इन्हें घर में रखना अपराध है? क्या देश में किसी मुसलमान...

मध्य प्रदेश : भाव गिरने से किसान अमरूद फेंकने को मजबूर

इंदौर : मध्य प्रदेश में भाव गिरने की वजह से किसान अमरूद फेंक रहे हैं. सोशल मीडिया पर इसका वीडियो इन दिनों काफी वायरल...

कालीमाटी से कोरस तक के सफर में डिमना बांध के विस्थापितों को क्या मिला?

डिमना बांध कालीमाटी से कोरस तक के सफर में डिमना बांध के विस्थापितों को क्या मिला? लगभग 8 दशक पहले जमशेदपुर शहर के नागरिकों के पेयजल...